क्या हम आज़ाद हैं …..?

अपने फ़र्ज़ से

दूसरों के कर्ज़ से

अपने अरमानों से

दूसरों के एहसानों से

क्या हम आज़ाद हैं ……?

किसी के प्यार से

किसी के मनुहार से

किसी की नफ़रत से

किसी की उल्फ़त से

क्या हम आज़ाद हैं ……..?

किसी के बंधन से

किसी के अनमन से

किसी के अपनाने से

किसी के ठुकराव से

क्या हम आज़ाद हैं …………?

किसी के ग़म से

किसी की ख़ुशी से

किसी के मन से

किसी के हँसी से

क्या हम आज़ाद हैं ..….…?

अपने तन से

दूसरों के मन से

अपने कथन से

दूसरों के करम से

क्या हम आज़ाद हैं …………?

अपनी किस्मत से

दूसरों की इच्छा

अपने कर्मों से

दूसरों के दुखों से

क्या हम आज़ाद हैं …….…?

अपनी घुटन से

दूसरों की चुभन से

अपनी ज़िन्दगी से

दूसरों की मौत से

क्या हम आज़ाद हैं ………..?

कुछ अपने से

कुछ दूसरों से

कुछ ज़माने से

कुछ दुनिया से

क्या हम किसी से भी आज़ाद हैं ………..?

क्या हम वाकई आज़ाद हैं …………… ?

क्या हम वाकई आज़ाद हैं …………… ?

Translation

Are we free …..?

From one’s duty

From Others’ loan

From their aspirations

From others’ Favors

Are we free ……?

From Someone’s love

From someone’s adulation

From Someone’s hate

From Someone’s love

Are we free … …..?

From Someone’s bondage

From Someone’s hatred

From someone’s adopting

From Someone’s rejection

Are we free …… ……?

From someone’s sorrows

From someone’s happiness

From one’s mind

From someone’s laughter

Are we free .. …. …?

From our body

From the minds of others

From our statement

From Others’ doings

Are we free … ………?

From our luck

From Others’ will

From our deeds

From the suffering of others

Are we free. …?

From our Suffocation

From Others’ prick

From our life

Death of others

Are we free …… …..?

A little from ourselves

A little from others

A little From people

A little from the world

Are we free .from….. ….. anyone?

……… …… Are we really free?

Are we really free … …………?

                                                        ~Manisha Gupta

                                                           New Delhi, India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *